Whatsapp status in hindi

Whatsapp status in hindi

Whatsapp status in hindi

Whatsapp status in hindi1.मुझे हमदर्दी नहीं, थोडा सा अपनापन चाहिए दरसल खो सा गया हूँ …. अपनो की ही भीड में 😑😑😢😢

2.आशियाने बनें भी तो कहाँ जनाब,जमीनें महँगी 💵 हो चली हैं और दिल ❤ में लोग जगह नहीं देते

 3.मिले 👰तो… BEST👌 …नहीं 😶तो…. NEXT😎 ….LIFE ..मे ये Formula रखोगे तो कभी भी Feeling Sad😪 वाले Status नहीं रखने पड़ेंगे…
4.अब अपनी शख्सियत की भला मैं क्या मिसाल दूँ यारों, ना जाने कितने लोग मशहूर हो गये, मुझे बदनाम करते करते…..!!
5.लोग भी बड़े अजीब होते है, गलत साबित होने से पहले माफ़ी नहीं मांगते, बल्कि तालुक तोड़ देते है…
6.मै 👨फिर याद 😭आऊंगा उस👆 दिन📝 जब तेरे ही बच्चे👶 कहेंगे-मम्मी 👩आपने कभी किसी 👤से प्यार 👫किया ???
7.चूक जाये वो वार कैसा…जीत कर हार जाये वो खिलाडी कैसा …और अपनी बात लोगो तक ना पहुँचा सके वो शायर कैसा
8.ताश में जोकर 😛 ओर चाहत 😘 की ठोकर, अकसर बाजी घूमा देते हैं 😎😎😎
9.लोग बदलते नहीं है जनाब !!! ” बेनक़ाब ” होते हैं।
10.दो चार नहीं…मुझे सिर्फ एक दिखा दो…😐 वो शख्स…जो अन्दर भी बाहर जैसा हो… !😏😏
11.निगाहों में मंज़िल थी… गिरे और गिर कर संभलते रहे… हवाओं ने तो बहुत कोशिश की… मगर चिराग आँधियों में भी जलते रहे😇😇
12.जलो वहाँ जहाँ जरूरत हो ….. उजालों में चिरागों के कोई मायने नहीं होते।
13.चेहरे 👩पर जो अपने दोहरी नकाब रखता हैं, खुदा उसकी चलाकियों का हिसाब रखता हैं
 14.गुनहगारों की आँखों में झूठे ग़ुरूर होते हैं, 👿👿 यहाँ शर्मिन्दा तो सिर्फ़ बेक़सूर होते हैं..!😫😫
15.अब कहां दुआओं में वो बरक्कतें,…वो नसीहतें …वो हिदायतें, अब तो बस जरूरतों का जलूस हैं …मतलबों के सलाम हैं
16.ये दुनिया अक्सर उन्हें सस्ते में लूट लेती है, खुद की क़ीमत का जिन्हें अंदाजा नहीं होता !!
17.कुछ मीठी सी ठंडक है आज इन हवाओं में, शायद दोस्तो की यादों का कमरा खुला रह गया है…!😍❤✨💫🍫🌹
18.फलक की भी जिद है जहाँ बिजली गिराने की , हमारी भी जिद है वहीं आशियां बनाने की . . . ! !
19.बस इतना ही चाहिये तुजसे ऐ जिंदगी … कि जम़ीन पर बैठूँ तो लोग उसे मेरा बडप्पन कहें, औकात नहीं …..
20.मैं हिंदी बोलता हूँ, इसलिए आप “आप” हैं, वरना कब के “you” हो गए होते..
21.न जाने इतनी ‪मोहब्बत‬ कहाँ से आ गयी उस ‪अजनबी‬ के लिए..!! की मेरा ‪दिल‬ भी उसकी खातिर अक्सर मुझसे रूठ जाया करता हे ..!!
22.अकल आयी थी मशवरा देने , मोहब्बत ने मुस्करा कर टाल दिया।
23.तयशुदा मुलाक़ातों में वो बात नहीं बनती…… क्या ख़ूब था राहों में अचानक सामने से आना तेरा…..
24.कुछ लोग इतने ढीठ होते हैं कि जितना मर्जी उनको भाड़ में भेज दो वापिस आ ही जाते हैं।